Posted by: Bagewafa | جنوری 30, 2014

‘गांधी’- जीवित हैं आज भी-कारुलाल जमड़ा

who-killed-mahatma-gandhi-assassination-conspiracy

‘गांधी’- जीवित हैं आज भी-कारुलाल जमड़ा

कौन कहता है
गांधी ने ली थी अंतिम सांस
तीस जनवरी उन्नीस सौ अडतालीस को
‘गांधी’-जीवित हैं आज भी

सभ्य विचारों में
चरित्रिक उद्गारों में
परोपकारी प्राणों में

‘गांधी’-जीवित हैं आज भी
सत्यवादियों की सच्चाई में
अहिंसकों के मौन में
करुणा के अस्तित्व में।

‘गांधी’-जीवित हैं आज भी
भोग रही पुण्याई में
विश्व-शांति की आकांक्षा में
सिसकती मानवता में

‘गांधी’-जीवित हैं आज भी,
मुस्कराते दलितों में
आमरण अनशनों में
ईमान के संघर्षों में
‘गांधी’-जीवित हैं आज भी।

Advertisements

زمرے

%d bloggers like this: