Posted by: Bagewafa | جنوری 29, 2018

शेरे हिंद असुद्दीन ओवैसी की अहम तकरीर

फिर वही शख्स बोला, बोला जुल्म के खिलाफ…..बाकी सब "सेक्युलर” तुम्हारे जलते दुकान/मकान की आग में पकौड़ा तल रहे थे….

 

Advertisements

زمرے

%d bloggers like this: